ias officer salary

 प्रतिमाह ₹56,000 - ₹ 2,50,000 


एक आईएएस अधिकारी का मूल वेतन जो है वह  प्रतिमाह ₹56,000 - ₹ 2,50,000 से शुरू होता है (TA,DA और HRA के अतिरिक्त )  ऐसा नहीं है कि या वेतन कितना तक ही सीमित है बल्कि यह बढ़ता भी रहता है और कैबिनेट सचिव के रूप में 250000 तक सैलरी पहुंच जाती है. 



तो देखा जाए तो बहुत ही सही है इतना सैलरी कम नहीं होता है शुरुआत में आपको  वेतन थोड़ा सा कम मिलता है . फिर भी 56000 इतना भी कम नहीं और यह भी हमें देखना चाहिए कि हमें TA,DA और HRA  भी मिल रहा है .  


भारतीय प्रशासनिक सेवा में कैरियर बनाना काफी गौरव की बात होती है. छात्र दिन रात मेहनत करके ही यहां पहुंचते हैं. यह सब इतना आसान नहीं होता है जितना कि सुनना होता है आपको बहुत ही ज्यादा मेहनत करनी पड़ती है क्योंकि कैंडिडेट आईएएस की परीक्षा में भाग लेने वाले बहुत ही ज्यादा होते हैं लेकिन सीट बहुत कम होती है .




Post

Grade

Pay Scale

Grade Pay

Sub-Divisional Magistrate (SDM), SDO, or Sub-Collector (after 2 years of probation)

Junior or Lower Time Scale

15600 – 39100

5400

District Magistrate (DM) or Collector or a Joint Secretary of a Government Ministry

Senior Time Scale

15600 – 39100

6600

Special Secretary or the Head of Various Government Departments

Junior Administrative

15600 – 39100

7600

Secretary to a Ministry

Selection Grade

37400 – 67000

8700

Principal Secretary of a Very Important Department of the Government

Super Time Scale

37400 – 67000

8700

Varies

Above Super Time Scale

37400 – 67000

12000

Chief Secretary of States, Union Secretaries in charge of various ministries of Government of India

Apex Scale

80000 (Fixed)

NA

Cabinet Secretary of India

Cabinet Secretary Grade

90000 (Fixed)

NA


एक आईएएस अधिकारी बनने के लिए हमें आईएएस की परीक्षा पास करनी होती है जैसा कि हम जानते हैं. 

IAS का एग्जाम तीन चरणों में होता है - 

1. प्री एग्जाम 

2. मेन एग्जाम 

3. इंटरव्यू एग्जाम 


प्री एग्जाम देने के बाद आप अगर आप फ्री परीक्षा क्वालीफाई कर जाते हैं तो मेन एग्जाम में जाते हैं और मेन एग्जाम अगर आप पास कर लेते हैं तो आप इंटरव्यू के लिए जाते हैं उसके बाद जो मेरिट तैयार होती है 

उसी से पता चलता है कि आप आईएएस की परीक्षा पास की है या नहीं . 


तो एग्जाम मस्त है लेकिन बहुत ही दमदार और कठिन एग्जाम है क्योंकि स्पीड बहुत कम है इसलिए इसको चुनने से पहले बैकअप जरूर में साथ रखें ताकि अगर इस परीक्षा में आप सफल ना हो तो कोई दूसरा रास्ता निकाल ले अपनी जिंदगी के लिए. 


एक कहावत जरूर याद रखिएगा कि यदि आप खेत में केवल गोभी पौधे लगाएं और उसी के सहारे रहे और गोभी की फसल ना हो तो क्या खाएंगे ? ठीक उसी तरह है अगर आप केवल आईएस के सहारे बैठेंगे और आईएस आपका ना निकले तो क्या करेंगे इसलिए बैकअप जरूर रखें अर्थात अल्टरनेटिव इसका जरूर रखें . 

ताकि अगर आईएएस की परीक्षा ना निकले तो जीवन का गुजारा हो सके .

टिप्पणी पोस्ट करें

0 टिप्पणियां