Paramedical Science Courses In hindi 2019 / Paramedical Science Meaning in Hindi / Paramedical Science Degree

Career in Paramedical Science 


 पैरामेडिकल साइंस मेडिकल साइंस की एक आम शाखा के रूप में अपनी जगह बना चुकी है. कैंसर, टीवी, एड्स, और हेपेटाइटिस जैसी खतरनाक बीमारियां पूरे विश्व में लाखों लोगों की सेहत को प्रभावित कर रही हैं. ऐसे में चिकित्सा से जुड़ी सेवाओं की बड़ी स्तर पर मांग की जा रही है, जहां पैरा मेडिकल साइंस कोर्स,मेडिकल फील्ड में उपलब्ध अवसरों को अपने नाम करने की काबिलियत प्रदान करते हैं.


Paramedical Science Courses In hindi 2019 / Paramedical Science Meaning in Hindi  / Paramedical Science Degree


 पैरामेडिकल सर्विसेज किसी भी हेल्थ केयर की का महत्वपूर्ण हिस्सा होती हैं. हेल्थकेयर इंडस्ट्री में हो रहे विस्तार ने प्रशिक्षित पैरामेडिकल प्रोफेसनल यानि पैरामेडिक  लिए नौकरियों के कई अवसर  खोल दिए हैं.

 पैरामेडिकल साइंस में मुख्य रूप से फिजियोथैरेपी, फार्मेसी रेडियोग्राफी, मेडिकल लैबोरेट्री टेक्नोलॉजी, नर्सिंग, स्पीच थेरेपी, ऑक्यूपेशनल थेरेपी, शामिल है और इसी सिलसिले में अब कई जॉब ओरिएंटेड कोर्सेज शुरू किए जा चुके हैं. इस फील्ड में 10वीं और 12वीं पास स्टूडेंट के लिए फुल टाइम और पार्ट टाइम सर्टिफिकेट और डिप्लोमा कोर्सेज उपलब्ध है.

 12वीं के बाद स्टूडेंट कैरियर में आगे बढ़ने के लिए यह तय नहीं कर पाते  है   कि क्या पढ़े और क्या ना पढ़े ?  अगर सही से गाइडेंस  मिले तो इंटरेस्ट के साथ चुना गया कोर्स करियर  को बेहतर उड़ान देने में काफी आम भूमिका निभा सकता है. मेडिकल फील्ड की बात करे तो   आज इस क्षेत्र में कई सहायता  कोर्स  हैं जो एक बेहतर कल का निर्माण कर सकते हैं.

 मेडिकल फील्ड में जुड़ा पैरामेडिकल कोर्स  ऐसे ही कोर्सेज  में से एक है. इस क्षेत्र में डिमांड को देखते हुए यह  आसानी से कहा जा सकता है कि हां पैरामेडिकल जॉब रेडी विकल्प है.



 दिल्ली पैरामेडिकल एंड मैनेजमेंट इंस्टीट्यूट, शिक्षा प्रॉपर ट्रेनिंग और बेस्ट प्लेसमेंट देने के लिए एक लीडिंग पैरामेडिकल इंस्टीट्यूट के रूप में उभर कर सामने आया है. यहा स्टूडेंट को बेसिक एजुकेशन के साथ-साथ उन्हें लैब्स में उचित प्रैक्टिकल ट्रेनिंग, राष्ट्रीय व अंतरराष्ट्रीय हेल्थ प्रोग्राम समेत पार्टिसिपेशन, फील्ड्स बोर्ड द्वारा सेमिनार, कैंपस डिबेट, कम्युनिटी अवेयरनेस ड्राइव, महत्वपूर्ण  स्वास्थ्य दिवस का आयोजन आदि करते हैं, इसके अलावा कोर्स खत्म होते ही उन्हें हेल्थ केयर सेंटर, हॉस्पिटल और लैब्स में इंटर्नशिप करवाते हैं जिससे स्टूडेंट रियल फील्ड में काम करने के लिए  तैयार हो जाता है

Post a Comment

0 Comments