class 10th math study material only for foreigner students (click below and download )




रोज़ गवर्नमेंट जॉब की सुचना पाने के लिए अपना ई-मेल डाले और subscribe पर क्लिक करे

Enter your email address:

Delivered by FeedBurner

free download video study material

Career In Artificial Intelligence 2019/ Salary / Eligibility / Course

 हाल ही में एक रिपोर्ट के मुताबिक आज उपलब्ध 9 प्रतिशत आंकड़ों का सृजन पिछले 2 वर्षों में किया गया है.. आज जिस तरह से इंटरनेट का उपयोग किया जा रहा है उसमें सोशल वेब और स्मार्टफोन ने क्रांति ला दी है दुनिया भर में 4 अरब से अधिक लोग इंटरनेट का प्रयोग कर रहे हैं और टनो  यूजर, डाटा का सृजन कर रहे हैं जिससे सरकर, कारपोरेट, ब्रांड आदि इस बात को लेकर पसोपेश में है कि किस प्रकार और कैसी प्रभावी ढंग से इन डाटा का उपयोग कर वित्तीय निर्णय करें.


 आर्टिफिशियल, एमएल , वीआर आदि जैसी नवीन एवं  अनूठी प्रद्यौगिकियो के  बढ़ती उपयोग से जीवन आसान हो रहा है और अधिक से अधिक सूचनाएं लोगो की पहुंच  में आ रही।  70% से अधिक भारतीय कंपनियों द्वारा वर्ष 2019 के अंत तक Ai समर्थित समाधान   लागू करने के संकेत के साथ एआई एवं डाटा साइंस विशेषज्ञों की भारी मांग होगी।  इस तरह से डाटा साइंस और एआई को लेकर जल्दी सभी क्षेत्र की कंपनियों में जबरदस्त मांग पैदा होने जा रहा है. इसलिए इस तरह के पेशेवरों की मांग पूर्ति के लिए पूर्णकालिक डिग्री प्रोग्राम कि पेशकश  करने वाले संस्थानों पर एक जिम्मेदारी है. अक्सर विद्यार्थी भारत में ऐसे संस्थानों के  तलाश में रहते हैं जो उद्योग की जरूरतों पूरा करने वाली समकालीन पाठ्यक्रम को उपलब्ध करा सके। 

Career In Artificial Intelligence 2019/ Salary / Eligibility / Course

 दुर्भाग्य से भारत में इस तरह की खास क्षेत्रों में बी.टेक  या  म-टेक  डिग्री की प्रोग्राम की पेशकश करने वाली संस्थानों की संख्या है गिनी -चुनी है।  हालांकि देर सबेर  इन  संस्थानों को इस बात का एहसास हो रहा है। यहा यह बात ध्यान देने योग्य है कि प्रशिक्षण संस्थानों द्वारा जो  डाटा साइंस और एआई पर कैप्सूल कोर्स कराए जाते हैं वे अक्सर उद्योग की जरूरतों को पूरा नहीं कर पाते हैं. सही संस्थान से डाटा साइंस और एआई में करियर की योजना बनाने के लिए यह उपयुक्त समय है।  

करियर  और संस्थान चुनने के लिए प्रमुख कारण निम्नलिखित है

१. आर्टिफीसियल इंटेलिजेंस एंड बिगड़ता एनालिटिक्स का बढ़ता उपयोग 

 नई  प्रौद्योगिकियों अब जटिल डाटा एनालिटिक्स को समझना  तेजी से आसान बना रही है, भले ही आंकड़े कितनी ही विविधता से भरे हो।  बड़ी. डाटा वेयरहाउसिंग स्टीट्यूट की रिपोर्ट से पता चलता है कि, की कम्पनिया  बिग डाटा  , बिजनेस इंटेलिजेंस, प्रिडिक्टिव एनालिटिक्स और डाटा माइनिंग के कार्यों के लिए एडवांस एनालिटिक्स के किसी न किसी रूप का उपयोग कर रही हैं। 

2. रोजगार के जबरदस्त अवसर एवं कौशल अंतर को पूरा करना



 रोजगार की तलाश कर रहे लोगों के पास ढेरों अवसर है।  लिंकडइन पर यह सबसे तेजी से बढ़ रही नौकरी है और 2026 तक 1. 15 करोड़ रोजगार सृजन होने के अनुमान है इससे एआई एवं डाटा साइंस सबसे अधिक  रोजगारपरक  क्षेत्र बनने जा रहा है. एक अध्ययन में बताया गया है कि अमेरिका को करीब 190000 डाटा वैज्ञानिकों और 1500000 मैनेजर व विश्लेषकों की कमी का सामना करना पड़ेगा जो बिग डाटा को समझकर निर्णय लेने में सक्षम होते हैं

पदों की भरमार

कुशल  डाटा वैज्ञानिकों और एआई पेशेवरों की मांग    बैंकिंग, हेल्थ केयर, फाइनेंसियल, इंश्योरेंस, मीडिया व मनोरंजन, दूरसंचार, ई-कॉमर्स जैसे सभी क्षेत्रों में बढ़  रही है वर्तमान में आपूर्ति की तुलना में मांग कहीं अधिक है

मोटी तनख्वाह एवं पैकेज

एक अध्ययन के मुताबिक डाटा वैज्ञानिकों को प्रतिवर्ष औसतन लक $116000 का भुगतान किया जाता है, एआई कौशल जैसे ही गहरी समझ और मशीन लर्निंग वाले पेशेवरों  की लगभग हर औद्योगिक क्षेत्र में भारी मांग है, इस तरह से डाटा साइंस एवं आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस काफी आकर्षक कैरियर के रूप में उभरा है,

डाटा साइंस एवं आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस जीवन बचा सकता है

हेल्थकेयर क्षेत्र में डाटा साइंस एवं आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस की वजह से जबरदस्त सुधार आया है. मशीन लर्निंग के आने से शुरुआती चरण के ट्यूमर का पता लगाना आसान हो गया है किसी अन्य हेल्थ केयर उद्योग भी अपने ग्राहकों   को की मदद के लिए डाटा साइंस का उपयोग कर रहे हैं.  संतुष्टि प्रदान करने वाले ,चुनौतीपूर्ण और साथ ही समुदाय के लिए कुछ हासिल करने में मदद करने वाले कैरियर में रूचि रखने वाले विद्यार्थियों के समक्ष यह एक बड़ा विकल्प है

 देश के कुछ आईआईटी है जिन्हें डाटा साइंस या एआई में डिग्री प्रोग्राम शुरू किया है लेकिन इनमें आईआईटी नारायणपुर भारत का एक ऐसा संस्थान है जो इन दोनों ही क्षेत्रों डाटा साइंस और एआई में स्नातक और स्नातकोत्तर यानी बीटेक और एमटेक स्तर पर विशेषज्ञता उपलब्ध कराने की पेशकश करता है। आईआईटी नारायणपुर से सीएससी में स्नातक करने वाले विद्यार्थियों ने भी डाटा एनालिटिक कंपनियों में आकर्षक तनखा के साथ नौकरी हासिल की है जिसकी वजह सीएआइ और  डाटा एनालिटिक्स के साथ इनका समृद्ध पाठ्यक्रम है।  जहा भारत और विदेश में डाटा साइंस एवं आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस में ढेरों नौकरियां है, वही  प्रतिष्ठित संस्थानों से आवश्यक कौशल के साथ निकलने वाले  प्रतिभाशाली लोगों की भारी कमी  भी  है

 IIT-  नारायणपुर अपनी परियोजना उनमुखी और उद्योग के मुताबिक डिजाइन किए गए पाठ्यक्रम के साथ इस  कमी को पूरी करने का वादा करता है यहां यह ध्यान देना महत्वपूर्ण है कि इस उद्योग में सबसे अधिक तनख्वाह वाली नौकरियां, डाटा इंजीनियर, निर्णय करने वालों, विश्लेषकों, अप्लाइड मशीन लर्निंग इंजीनियर, डाटा साइंटिस्ट और सोशल साइंटिस्ट के पदों की है

  घरेलू और अंतरराष्ट्रीय कंपनियां प्रतिभा के लिए भारत पर भरोसा जता रही है  इसलिए इन क्षेत्रों में नौकरी की डिमांड ज्यादा है। 

1 comment:

  1. Understand about how to deal with sequence data including textual data as well as time series data and audio processing. ai courses

    ReplyDelete