House Keeping / JOb/ Career / Eduation Informastion / Salary /

Career In House Keeping


हॉस्पिटैलिटी इंडस्ट्री के महत्वपूर्ण हिस्सों में से एक है हाउसकीपिंग। हॉस्पिटैलिटी इंडस्ट्री के अन्य विभागों की तरह हाउसकीपिंग की मांग इन दिनों बढ़ रही है क्योंकि लोग इसमें अपना सुनहरा भविष्य देख रहे हैं एक हाउसकीपर मल्टीटास्किंग होता है और किसी भी संस्थान की प्रतिष्ठा को बनाए रखने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है गौरतलब है कि हर संस्थान में हाउसकीपिंग की,, डिमांड है जैसे - होटल , हॉस्पिटल कॉरपोरेट ऑफिसेज। आधुनिक समय में हाउसकीपिंग डिपार्टमेंट अपनी कंपनी के सुधार के लिए r&d को भी रोजगार देता है। आप हाउस कीपिंग बनकर अलग-अलग पदों पर काम कर सकते हैं कैसे असिस्टेंट एग्जीक्यूटिव ,हाउस कीपर ,क्लीनर ,फ्लोर सुपरवाइजर और बैलट मैनेजर .

House Keeping / JOb/ Career / Eduation Informastion / Salary
Nature Of Work इस क्षेत्र में नौकरी करने का अर्थ निरंतर श्रम करना है इस कार्य क्षेत्र में व्यक्ति को साफ-सफाई से लेकर पूरे इंटीरियर की सात सज्जा का ध्यान रखना होता है। इसके अलावा हाउसकीपिंग का अहम कार्य ग्राहकों की सेवा का ख्याल रखना है ग्राहक के अतिथि की आराम एवं आनंद को प्राथमिकता दी जाती है। घर ,ऑफिस या किसी भी संस्थान को सर्वोत्तम ढंग से व्यवस्थित रखने की जिम्मेदारी भी उसी की होती है. लोगो के मन में इस प्रोफेशन को लेकर कई गलतफहमियां है। जैसे हाउस कीपर का काम केवल साफ-सफाई ,रूम व बाथरूम की सफाई करना होता है पर ऐसा बिल्कुल नहीं है एक हाउसकीपर को सफाई के अलावा और भी बहुत चीजें करनी होती हैं जैसे अतिथियों का स्वागत करना उनके आराम का ध्यान रखना कम समय में कार्य को सही तरीके से पूरा करना तथा चीजों को मैनेज करना और आपातकालीन स्थिति जैसे फायर सेफ्टी में सुरक्षा का भी ध्यान रखना होता है कोर्स और योग्यता अगर आपके अंदर सेवा भाव की भावना है और आपको अपनी सेवा से लोगों को खुश करने में ही खुशी मिलती है तो आप हाउसकीपिंग के क्षेत्र में अपना भविष्य बना सकते हैं हाउसकीपिंग में बहुत सारे कोर्सेज होते हैं जिसे आप 10वीं या 12वीं के बाद करके अपना करियर संवार सकते हैं। इस क्षेत्र में दो तरह के कोर्स होते हैं एक दसवीं के बाद हॉस्पिटैलिटी इंडस्ट्री में 3 वर्ष का डिप्लोमा और 12वीं या स्नातक के बाद हाउसकीपिंग और मेंटेनेंस में 1 वर्ष का डिप्लोमा। एक हाउसकीपिंग उम्मीदवार को मैनेजमेंट स्किल्स ,राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय राष्ट्रीय भाषा का भी ज्ञान होना चाहिए। हाउसकीपिंग के कोर्स में आवेदन करने के लिए जरूरी है कम से कम 50% अंकों के साथ 12वीं उत्तीर्ण होना। आजकल इस कोर्स के लिए प्रवेश परीक्षा आयोजित होने लगी है लिखित परीक्षा के अलावा साक्षात्कार और ग्रुप डिस्कशन द्वारा भी चयन किया जाता है कहां है संभावनाएं आपको विभिन्न होटलों ,रेस्तरां, क्लब, ओं क्रूजशिप , रिजॉर्ट तथा हॉस्पिटैलिटी इंडस्ट्री से जुड़े अन्य भागों में काम पर रखा जा सकता है हाउस अस्पताल, मीडिया हाउसेस ,यूनिवर्सिटी और बड़े संगठनों में भी हाउसकीपर की आवश्यकता होती है सैलेरी पैकेज (Salary & Package ) शुरुआती दिनों में आपकी सैलरी 8 से 10000 के बीच होती है लेकिन अनुभव के आधार पर सैलरी में इजाफा होता चला जाता है सैलरी के साथ पदोन्नति भी है जैसे आप एग्जीक्यूटिव पद पर भी नियुक्त हो सकते हैं यदि आपके पास पर्याप्त अनुभव है और आप की वित्तीय स्थिति सुदृढ़ है तो आप खुद का काम भी शुरू कर सकते हैं प्रमुख संस्थान जीएसटी नेशनल काउंसिल फॉर होटल मैनेजमेंट एंड कैटरिंग टेक्नोलॉजी नोएडा इंदिरा गांधी ओपन यूनिवर्सिटी नई दिल्ली दिल्ली पैरामेडिकल एंड मैनेजमेंट इंस्टीट्यूट नई दिल्ली लक्ष्य भारती इंस्टीट्यूट आफ इंटरनेशनल होटल मैनेजमेंट नई दिल्ली द होटल स्कूल नई दिल्ली कुरुक्षेत्र विश्वविद्यालय टूरिज्म एंड होटल मैनेजमेंट विभाग हरियाणा

Post a Comment

0 Comments