दसवीं के बाद मैथ लेने के फायदे /10th ke baad kya kare /sarkari naukari /sarkari result / sarkari

contents





नमस्कार दोस्तों इस पोस्ट में आपका बहुत बहुत स्वागत है इस पोस्ट में हम जानेंगे क्या में दसवीं के बाद मैथ क्यों लेना चाहिए , इसके लेने से क्या फायदा है, इसको लेकर कैरियर कितना आगे बढ़ाया जा सकता है, भविष्य में इसका क्या फायदा है इस तरह की तमाम बातों का उत्तर हम अपने इस पोस्ट में जानेंगे, इसलिए पोस्ट शुरू से लेकर अंत तक पढ़ते रहे, ताकि जानकारी का कोई भी हिस्सा मिस ना हो पाए click on below image to get more information ,
दसवीं के बाद मैथ लेने के फायदे /10th ke baad kya kare /sarkari naukari /sarkari result / sarkari


10वीं के बाद क्या करें -

ज्यादातर छात्र जब दसवीं की परीक्षा पास कर लेते हैं तो उनके सामने एक ही प्रश्न आता है कि दसवीं के बाद उन्हें क्या करना चाहिए, कला संकाय लेना चाहिए, विज्ञान लेना चाहिए, कॉमर्स लेना चाहिए या क्या करना चाहिए ? ज्यादातर छात्र इसी बात को लेकर उलझन में रहते हैं, और उन्हें गार्डंस करने वाला भी कोई नहीं मिलता है , जिसको जो समझ में आता है बस वही ले लेता है, बहुत कम ऐसे छात्र हैं जो समझ बूझ कर विषय का चयन करते हैं 11th के लिए , और जो समझ बूझ कर विषय का चयन करते हैं वही आगे भी जाते हैं. क्योंकि वह समझ बुझकर विषय का चयन इसलिए कर रहे हैं क्योंकि कहीं ना कहीं उनके दिमाग में कुछ ना कुछ टारगेट जरूर है. click on below image to get more information .






दसवीं के बाद मैथ लेने के फायदे-


दसवीं के बाद मैथ लेने के बाद ढेर सारे फायदे आपके पास है , आप विभिन्न क्षेत्रों में जाकर अपना कैरियर बना सकते हैं , दसवीं के बाद मैथ लेने से आप 12वीं में मैं तो करेंगे ही. इससे क्या होगा कि बरहमी आप पीसीएम ग्रुप से कर लेंगे, उसके बाद आप चाहें तो, इंजीनियरिंग लाइन, बीएससी लाइन, बीसीए लाइन इत्यादि चुन सकते हैं, इसके अलावा बहुत सारी भर्तियां निकलती रहती हैं सरकारी क्षेत्रों में व निजी क्षेत्रों में भी , जो कि कक्षा 12 में मैथ मांगती हैं , तो आप अगर कक्षा 12 मैथ से पास हैं तो उन फॉर्म को आसानी से भर कर , प्रवेश परीक्षा पास करके नौकरी प्राप्त कर सकते हैं . click on below image to get more points




दसवीं के बाद मैथ लेने के फायदे /10th ke baad kya kare /sarkari naukari /sarkari result / sarkari




दसवीं के बाद मैथ लेकर आप इंजरिंग लाइन में जा सकते हैं-


दसवीं के बाद अगर आप मैथ ले लेते हैं तो , तो आपको फायदा यह होगा की आप 12th पीसीएम ग्रुप से ही करेंगे और इंजरिंग की प्रवेश परीक्षा देने के लिए आपका बरावी में मैच होना जरूरी है, तभी आप आईआईटी की प्रवेश परीक्षा दे सकते हैं , और दूसरे क्षेत्रीय इंजीनियरिंग कॉलेज की प्रवेश परीक्षा दे सकते हैं , राज्य स्तरीय इंजीनियरिंग प्रवेश परीक्षा , राज्य करवाती है click on below image to get more information ,



जबकि आईआईटी की प्रवेश परीक्षा इंडिया लेवल पर की जाती है . आईटी की प्रवेश परीक्षा देकर कोई भी सरकारी कॉलेज चुन सकते हैं, यह आपकी और रैंक पर डिपेंड करता है , कि कौन सा कॉलेज आपको मिलेगा या नहीं, यदि आपको सरकारी कॉलेज नहीं मिलता है तो आप प्राइवेट कॉलेज लेकर भी अपना इंजरिंग कर सकते हैं, इंजरिंग का कोर्स 4 साल का होता है. इस 4 साल के कोर्स को पूरा करने के बाद आप इंजीनियर बन जाते हैं , और किसी भी सरकारी कंपनी या प्राइवेट कंपनी के लिए अप्लाई कर सकते . click on below to know more

दसवीं मैथ के बाद अब बीएससी कर सकते हैं-

दसवीं के बाद अगर आप मैथ स्ट्रीम ले लेते हैं तो , तो आगे आपको बीएससी करने के राह मिल जाते हैं, क्योंकि जैसा कि पहले ही आप जानते हैं कि दसवीं के बाद मैथ लेना, मतलब यह हुआ कि आप 12 वीं पीसीएम से करेंगे, और उसके बाद अब चाहे तो बीएससी कोर्स आराम से कर सकते हैं. और यह बीएससी कोर्स मैथ से रिलेटेड होगा. वहीं अगर आप दसवीं के बाद बायो ले लेते हैं तो भी आप भी आप बीएससी कर सकते हैं



लेकिन यह बीएससी बायो से रिलेटेड होगा . तो जिनको पैसे का अभाव रहता है और वे 12वीं मैथ करने के बाद बीएससी करना चाहते हैं तो वह कर सकते हैं , वैसे बीएससी करना भी बहुत कठिन काम है . इसमें फर्स्ट डिविजन लाना बहुत ही मेहनत का काम होता है, अब कोई भी प्रोफेशनल कोर्स कीजिए जैसे कि बीटेक, एमबीबीएस, बीसीए इत्यादि उसमें आपको फर्स्ट डिवीजन या उससे ज्यादा मार्क लाना आसान होता है , लेकिन बीएससी में फर्स्ट डिविजन लाना बहुत ही कठिन काम है . बीएससी 1 ट्रेडिशनल कोर्स के अंतर्गत आता है .
दसवीं के बाद मैथ लेने के फायदे /10th ke baad kya kare /sarkari naukari /sarkari result / sarkari


दसवीं मैथ के बाद बीसीए में अच्छा अवसर-


दसवीं की परीक्षा पास कर लेने के बाद यदि आप ट्वेल्थ मैथ से कर लेते हैं तो आप बीसीए में फिर अच्छा अवसर बना सकते हैं , बीसीएए 3 साल का कोर्स होता है जिसे बैचलर ऑफ द कंप्यूटर एप्लीकेशन कहते हैं. बीसीएए कंप्यूटर से रिलेटेड डिग्री कोर्स होता है, जिसको करने के बाद प्राइवेट या सरकारी क्षेत्र में नौकरी के लिए अप्लाई कर सकते हैं. वैसे बीसीए किसी आप अच्छे कॉलेज से ही करिए क्योंकि आजकल ज्यादातर कॉलेज बीसीए के खुल गए हैं, जो केवल डिग्रियां देते हैं , उनमें क्वालिटी कुछ नहीं होता है . इसलिए हो सके तो प्रवेश परीक्षा देकर ही बीसीए मैं एडमिशन ले . ताकि आपको अच्छा कॉलेज मिल सके और वहां से केंपस सिलेक्शन हो सके. एडमिशन लेने के पूर्व ही आप बता कर ले कि कॉलेज का रेपुटेशन कैसा है ? उसने पिछले दो-तीन सालों में कैसा केंपस सिलेक्शन दिया है, इन सभी चीजों की पूरी जानकारी लेकर ही आगे बढ़े .


दसवीं मैथ लेने के बाद पायलट बने -


यदि आप दसवीं की परीक्षा पास कर लेते हैं और फिर 12 वी आफ मैथ्स से कर लेते हैं तो तो आप क्यों पायलट बनने के चांस बढ़ जाते हैं , क्योंकि पायलट बनने के लिए आपका 12वीं में 60% मार्क्स होना चाहिए, और इसके साथ ही साथ आपकी मैच स्ट्रीम होनी चाहिए, यानी 12 वीं पीसीएम के साथ 60% होना चाहिए. तभी जाकर पायलट के लिए आप अप्लाई कर सकते हैं.




पायलट बनने के लिए आपको डीजीसीए से अप्रूव्ड संस्थान में प्रवेश परीक्षा देनी पड़ती है. डीजीसीए का मतलब हो गया डायरेक्टर जनरल सिविल एविएशन. प्रवेश परीक्षा पास करने के बाद आपको एसपीएल के लिए आवेदन करना होगा , एसपीएल 1 लाइसेंस परीक्षा है कमर्शियल पायलट बनने के लिए स्टूडेंट पायलट लाइसेंस और पीपीएल जिसको की पब्लिक पायलट लाइसेंस कहते हैं , एसपीएल और पीपीएल का लाइसेंस प्राप्त कर लेने के बाद आपको सीपीएल का लाइसेंस प्राप्त करना होता है, जिसे की कमर्शियल पायलट लाइसेंस करते हैं , सीपीएल का लाइसेंस प्राप्त करने के बाद आप किसी भी प्राइवेट या सरकारी संस्थान में पायलट की जॉब के लिए अप्लाई कर सकते हैं और जहाज का ड्राइवर बन सकते हैं.

दसवीं के बाद कॉमर्स-
दूसरी बात यह आती है कि अगर आप दसवीं के बाद कॉमर्स लाइन ले लेते हैं तो उसमें भी कुछ विकल्प है जिसे अपना कर आप अपना करियर बना सकते हैं, सबसे आसान चीज है कि दसवीं के बाद अगर आपने कॉमर्स लिया है, तो फिर आप बीकॉम कर सकते हैं, एम कॉम भी कर सकते हैं, क्योंकि जैसा कि आप जानते होंगे एम कॉम एक मास्टर डिग्री कोर्स है, जो कि अब भी काम का ही अगला भाग होता है l सीए वनकर भी आप अच्छी खासी नौकरी कर सकते हैं , और कंपनियों में अपनी सर्विस दे सकते हैं तथा ज्यादा से ज्यादा आप अपनी कमाई भी कर सकते हैं , बीकॉम स्ट्रीम वाले स्टूडेंट आजकल सीए बनना पसंद कर रहे हैं और खूब कमाई कर रहे हैं



अगर आप B.COM stream के स्टूडेंट हैं तो आप सीएस बनकर भी नौकरी कर सकते हैं, सीएस का फुल फॉर्म होता है कंपनी सेक्रेट्री, तो कंपनी सेक्रेट्री कि आजकल ज्यादा डिमांड है कंपनियों में, आजकल ज्यादातर युवा सीएस बनना चाहते हैं क्योंकि सीएस में कमाई के साथ साथ इज्जत भी ज्यादा है , बीकॉम स्ट्रीम में ज्यादातर छात्र जो है वह या तो सीए बनना चाहते हैं या सीएस l
सी ए का फुल फॉर्म होता है चार्टर्ड अकाउंटेंट l

दसवीं के बाद अगर आप आर्ट लाइन चुनते हैं तो फिर आगे इसका क्या स्कोप है यह हम जानेंगे, तू दिखे फ्रेंड्स अगर दसवीं के बाद art आप चुनते हैं तो उसमें बहुत ही ज्यादा आपको मेहनत नहीं करना पड़ता है, क्योंकि अगर साइंस की बात करें तो उसमें आपको बहुत ज्यादा पढ़ना पड़ता है, आपको ज्यादा समझना पड़ता है, लेकिन आर्ट्स की लाइन में ज्यादातर सब्जेक्ट से जो होते हैं वह रट्टा मार सब्जेक्ट होते हैं, आप आसानी से उन्हें याद करके एग्जाम दे सकते हैं, इसलिए अगर आपको मैथ या बायो य साइंस से डर लगता है तो फिर आप ART ले ले l आर्ट लेने के बाद, आप भी B.A कर सकते हैं अगर उसमें मास्टर डिग्री लेना चाहे तो आप M.A कर सकते हैं , उसके बाद आप चाहे तो पीएचडी भी कर सकते हैं l



ज्यादातर छात्र b.A . को इसलिए चुनते हैं क्योंकि वे आईएएस या पीसीएस की तैयारी करना चाहते हैं l लेकिन जहां तक आईएएस और पीसीएस की बात है , तो आजकल थोड़ा थिंकिंग बदली हुई है, क्योंकि ज्यादातर इंजीनियरिंग और मेडिकल के छात्र, अपना प्रोफेशनल कोर्स तो करते रहते हैं और साथ में वह b.a. के सब्जेक्ट भी पढ़ते रहते हैं इससे उनको फायदा यह होता है कि उनका प्रोफेशनल कोर्स की भी पढ़ाई हो जाती है और चुकी बे b.a. का सब्जेक्ट भी पढ़ रहे हैं इसलिए उनका आईएएस और पीसीएस की भी तैयारी अच्छी खासी हो जाती हैl

आईएएस A to Z जानकारी के लिए इसे पढ़े


कंक्लुजन (conclusion) -

तो यह था मैथ लेने के फायदे , ऊपर की जितनी भी वैराइटीज है वह सब मैथ से ही है, अगर आप दसवीं के बाद मैथ ले लेते हैं तो आपको ढेर सारी चॉइस मिल जाएगी , बस आपको जानकारी होनी चाहिए. अगर आपके पास जानकारी है जैसा कि ऊपर बताया गया है, तो आप उन में से कोई भी चुन कर अपना अच्छा कैरियर बना सकते हैं, आशा की जाती है यह पोस्ट आपके लिए गागर में सागर भर देने वाला जैसा पोस्ट होगा और आप की पूरी प्रश्न की जानकारी यहां से मिल गई होगी ,इस पोस्ट में अपना बहुमूल्य समय देने के लिए आप लोगों का बहुत-बहुत धन्यवाद .

एक टिप्पणी भेजें

3 टिप्पणियाँ

Emoji
(y)
:)
:(
hihi
:-)
:D
=D
:-d
;(
;-(
@-)
:P
:o
:>)
(o)
:p
(p)
:-s
(m)
8-)
:-t
:-b
b-(
:-#
=p~
x-)
(k)